स्टेटस डाउनलोड करें

स्टेटस डाउनलोड करें

time:2021-10-28 03:34:02 अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स Views:4591

खेल ड्राइंग स्टेटस डाउनलोड करें betway हेल्पलाइन,fun88 प्रायोजन,lovebet 5 पाउंड मुफ्त शर्त,lovebet इंडिया रिव्यू,सूरज को प्यार करो,3 रील स्लॉट एक्सबॉक्स वन,बकारट बी बार मियामी,बैकारेट इत्र की कीमत,बेस्ट ऑफ फाइव आईसीएसई,बीटीविन 340,कैसीनो लॉटरी,शतरंज की ईबुक,क्रिकेट सट्टेबाज,क्रिकेट जिम्बाब्वे बनाम पाकिस्तान,यूरोपीय कप कमांडर पूर्वानुमान,फुटबॉल सट्टेबाजी साइटें,गा फुटबॉल,खुश किसान स्तर,i10 स्पोर्ट्ज़,जैकपॉट अमेज़न प्रश्नोत्तरी आज,ला स्पोर्ट्स एरिना,लाइव ड्रैगन टाइगर गेम,लॉटरी लॉटरी सांबाद,मी फुटबॉल शेड्यूल,ऑनलाइन कैसीनो betrugstest,ऑनलाइन गेम गेंडा,ऑनलाइन स्लॉट कोई जमा नहीं,पोकर 247,पोकर x/r,रूले पेआउट चार्ट,रम्मी निर्यात,रूसी रूले मशीन,स्लॉट जैरी,स्पोर्ट्स कोटा भारती 2021,तीन पत्ती कैसे खेलें,नवीनतम ऑनलाइन नकद जुआ खेल,हैदराबाद में वर्चुअल क्रिकेट,वाइल्डज़ साइन अप बोनस,lovebetकॉम,करीना रिंगटोन,क्रिकेट हिस्ट्री,जियूसीओ में यात्रा,पैन एशिया गेमिंग,बरसात वीडियो सॉन्ग,रमी हिंदी,स्टेटस फेसबुक, .अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

इस साल इंक्रीमेंट घटकर 3.6 फीसदी पर पहुंच गए. 2019 में यह आंकड़ा 8.6 फीसदी रहा था.
अच्‍छी वेतनवृद्धि के लिए आपको अभी कम से कम दो साल इंतजार करना पड़ सकता है. 2021 और 2022 में सिंगल डिजिट में इंक्रीमेंट रहने के आसार हैं. इस मोर्चे पर स्थितियों के सामान्‍य होने में कुछ वक्‍त लग सकता है. जानकारों ने इस तरह का अनुमान जाहिर किया है.

कंपनसेशन एक्‍सपर्ट्स के अनुसार, 2022 से पहले इंक्रीमेंट के सामान्‍य होने के आसार नहीं हैं. डेलॉयट इंडिया वर्कफोर्स और इंक्रीमेंट ट्रेंड्स सर्वे के मुताबिक, इस साल इंक्रीमेंट या वेतन में बढ़ोतरी घटकर 3.6 फीसदी पर पहुंच गई. 2019 में यह 8.6 फीसदी रही थी. वेतनवृद्धि में भले अभी समय लगे. लेकिन, कंपनियां मेडिकल, इंश्‍योरेंस और होम ऑफिस के लिए इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर इत्‍यादि मुहैया कराकर नए तरह के बेनिफिट दे रही हैं.

एयॉन कंसल्‍टिंग इंडिया में सीईओ (परफॉर्मेंस रिवॉर्ड्स एंड ऑर्गनाइजेशन एफेक्‍टिवनेस) नितिन सेठी ने कहा, ''जहां तक विभिन्‍न सेक्‍टरों में वेतनवृद्धि का सवाल है तो शेष 2020 और 2021 सुस्‍त रहने वाले हैं.'' उन्‍होंने कहा कि 2022 से आर्थिक गतिविधियां दोबारा रफ्तार पकड़ सकती हैं. इससे बोनस और इंसेंटिव का दौर फिर शुरू हो जाएगा.

इसे भी पढ़ें : एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.

इस साल नियमित वेतनवृद्धि करने वाली कंपनियां तीन तिमाहियों के असंतोषजनक प्रदर्शन के साथ अगले वित्‍त वर्ष में प्रवेश करेंगी. ये वेतनवृद्धि को लेकर ज्‍यादा मंथन करेंगी.

इसे भी पढ़ें : आईटी पेशेवरों के लिए खुशखबरी, कंपनियों में एक लाख से ज्‍यादा नौकरी के मौके

डेलॉयट इंडिया में पार्टनर आनंदोरूप घोष ने कहा कि इस साल जिन कंपनियों ने इंक्रीमेंट नहीं दिया है, वे भी इस मोर्चे पर कदम उठाने में देर कर सकती हैं. वे अपने कोर बिजनेस के प्रदर्शन में सुधार की साफ तस्‍वीर आने के बाद ही इस बारे में कोई फैसला लेंगी.

master5
master6

बढ़ सकते हैं बेनिफिट
अगले दो साल में कंपनियों का फोकस कंपनसेशन के बजाय बेनिफिट बढ़ाने पर हो सकता है. ज्‍यादातर कंपनियों के लिए वर्क-फ्रॉम होम अब 'न्‍यू नॉर्मल' बन गया है. ऐसे में ब्रॉडबैंड, फर्नीचर, स्‍टेशनरी इत्‍यादि के लिए अलाउंस के तौर पर बेनिफिट बढ़ सकते हैं. इन्‍हें कंपनसेशन पैकेज का हिस्‍सा बनाया जा सकता है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इंक्रीमेंटडेलॉयल इंडियासैलरीएक्‍सपर्टसर्वेवेतनवृद्ध‍ि

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.कोविड के बीच जानिए कहां मिल रही हैं नौकरियां

सक्रिय रूप से मैनेज किए जाने वाले लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड के तौर-तरीकों का पिछले कुछ सालों में सभी को पता लग गया है. कुछ को छोड़ ज्यादातर स्कीमों ने प्रमुख सूचकांकों से कमतर प्रदर्शन किया है.ब्‍याज दरों में कटौती का फैसला वापस होने के बाद एक सामान्‍य धारणा बनी. वह यह थी कि चुनावों को देखते हुए यह फैसला लिया गया.फ्रैंकलिन टेम्पलटन के निवेशकों को इस हफ्ते मिलेंगे 2,962 करोड़ रुपये

बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.सक्रिय रूप से मैनेज किए जाने वाले लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड के तौर-तरीकों का पिछले कुछ सालों में सभी को पता लग गया है. कुछ को छोड़ ज्यादातर स्कीमों ने प्रमुख सूचकांकों से कमतर प्रदर्शन किया है.कोविड के बीच जानिए कहां मिल रही हैं नौकरियां

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
ऑनलाइन गेम हैक ऐप डाउनलोड

फ्रेंकलिन टेंपलटन के इंडियन मैनेजमेंट ने घरेलू कारोबार के लिए अपनी प्रतिबद्धता जताई थी.

मकान मालिक से लड़ने वाला बैकारेट

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

नवीनतम बैकारेट प्ले

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.

शतरंज का जाल

भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.

विश्वसनीय बैकरेट वेबसाइट अनुशंसा

अगर आप युवा (20 के पड़ाव में) हैं और रिटायरमेंट के लिए बचत शुरू करना चाहते हैं तो आपका निवेश इक्विटी म्‍यूचुअल फंड में ज्‍यादा होना चाहिए.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी