भारत में नंबर 1 रम्मी साइट

भारत में नंबर 1 रम्मी साइट

time:2021-10-21 06:01:13 रेनॉ की गाड़‍ियां भी जनवरी से होंगी महंगी, 28,000 रुपये तक बढ़ेंगे दाम Views:4591

क्या ऑनलाइन बैकारेट सुरक्षित है? भारत में नंबर 1 रम्मी साइट betway आधिकारिक ऐप,लीवगैस जमा,lovebet 9 से 5,lovebet किल्मरनॉक,lovebet इलेक्शन,6+ पोकर ऑड्स,बैकरेट गणना सूत्र,बैकरेट रोड लिस्ट एनालाइजर,बेस्ट स्ट्रेच फाइव जंपशॉट 2k20,नकद शतरंज नेविगेशन,कैसीनो ग्रह ऐप,शतरंज तुम,क्रिकेट स्पेन,दिन के खेल,यूरोपीय कप एचडी लाइव,मीलों में फुटबॉल के मैदान,पुस्तक क्रिकेट कोड का खेल,मराठी में हैप्पी किसान दिवस,इंडीबेट प्रमोशन कोड,जैकपॉट खेल उपहार और मनोरंजन,ऑनलाइन सट्टेबाजों की सूची,लाइव रूले जेंटिंग,लॉटरी भविष्यवक्ता,एमबीए क्रिकेट,ऑनलाइन कैसीनो यह असली है,ऑनलाइन लाइव लाठी karten zählen,ऑनलाइन स्लॉट विकिपीडिया,पोकर कोण शूट,पूल रम्मी ईमेल,रूले याकूब 3,रमी मोबाइल लॉगिन,श स्पोर्ट्स,स्लॉट असली कैसीनो,खेल विला,तीन पत्ती टाउन,सबसे प्रतिष्ठित मनोरंजन शहर ऑनलाइन,विवो लाइव रूले,विश्व कप फुटबॉल लॉटरी नियम,असली पैसे का खेल mp3,कैटरीना में,खेलो पर जुआ juice,जोकर डे चार्ट,फुटबॉल आज रात,बेटा ऑनलाइन,लाटरी नागालैंड,स्टेटस सॉन्ग, .रेनॉ की गाड़‍ियां भी जनवरी से होंगी महंगी, 28,000 रुपये तक बढ़ेंगे दाम

रेनॉ भारतीय बाजार में क्विड, डस्टर और ट्राइबर मॉडलों की बिक्री करती है.
नई दिल्ली : मारुति सुजुकी, फोर्ड और महिंद्रा एंड महिंद्रा के बाद अब रेनॉ ने भी अपनी कारों के दाम बढ़ाने का एलान किया है. ऑटोमोबाइल कंपनी अगले महीने से अपने सभी मॉडलों के दाम बढ़ा रही है. इनकी कीमतों में 28,000 रुपये तक की बढ़ोतरी की जाएगी.

रेनॉ भारतीय बाजार में क्विड, डस्टर और ट्राइबर मॉडलों की बिक्री करती है. कंपनी ने बताया है कि उसके विभिन्न मॉडलों में मूल्यवृद्धि अलग-अलग होगी. उसने इस फैसले के पीछे उत्पादन लागत बढ़ने को वजह बताया है.

इसे भी पढ़ें : हीरो मोटोकॉर्प की बाइक्‍स होंगी महंगी, नए साल से 1500 रुपये तक बढ़ेंगे दाम

कंपनी ने कहा कि महामारी के दौरान स्‍टील, एलुमिनियम, प्लास्टिक और अन्य संबंधित लागत बढ़ी हैं. इसके चलते उसे भी कीमतों में बढ़ोतरी करनी पड़ रही है. मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने बताया था कि कीमतों में बढ़ोतरी 1 फीसदी से 3 फीसदी की रेंज में होगी. इस तरह दाम करीब 5,000 रुपये से लेकर 35,000 रुपये तक बढ़ जाएंगे. यह अलग-अलग मॉडलों पर निर्भर करेगा.

इसे भी पढ़ें : ये हैं 8 नए फीचर वाले स्‍मार्टफोन, जानिए क्‍या हैं इनकी खूबियां

फोर्ड इंडिया ने अपनी कारों में 3 फीसदी बढ़ोतरी का एलान किया था. मारुति सुजुकी ने भी जनवरी से कारों के दाम बढ़ाने का एलान करते हुए कहा था कि विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी अलग-अलग होगी. इन सभी कंपनियों ने मूल्‍यवृद्धि के पीछे बढ़ती इनपुट कॉस्‍ट का हवाला दिया था.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

रेनॉरेनॉ की कारें जनवरी से महंगी होंगीमारुति सुजुकीइनपुट कॉस्‍टफोर्डमहिंद्रा एंड महिंद्राउत्‍पादन लागत

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

पहले ही कार बनाने वाली कई कंपनियां अपने-अपने मॉडलों के दाम बढ़ाने का एलान कर चुकी हैं. ये जनवरी से गाड़‍ियों के दाम बढ़ाएंगी. इन कंपनियों में मारुति सुजुकी, फोर्ड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रेनॉ शामिल हैं.कोलकाता, 20 अक्टूबर (भाषा) निर्यातकों ने बांग्लादेश के लिए माल ले जा रहे ट्रकों के लिए पेट्रापोल और घोजाडांगा जमीनी सीमाओं पर लंबी प्रतीक्षा अवधि को लेकर कड़ी नाराजगी जताई है। निर्यातकों ने बुधवार को बताया कि माल निर्यात करने वाले ट्रकों को एक महीने से अधिक समय के लिए रोका हुआ है। कुछ मामलों में ट्रक 55 दिनों से खड़े हुए हैं। फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट्स के चेयरमैन (पूर्व) सुशील पटवारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, “ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि के कई कारण है। दोनों देशों से निर्यात की मात्रा बढ़ी है और दुर्गा पूजा की छुट्टियों नेNew Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये

इस दिन भगवान धन्वंतरि की पूजा की जाती है. विष्णु के अवतार धन्वंतरि को आयुर्वेद का भगवान कहा जाता है. माना जाता है कि उन्होंने मानव जाति को आयुर्वेद का ज्ञान दिया.कीमतों में यह बढ़ोतरी विभिन्‍न मॉडलों में अलग-अलग होगी. यह वास्‍तव में कितनी होगी, इस बारे में जल्‍द ही डीलरों को बताया जाएगा.महाराष्ट्र सरकार ने कोयले का अतिरिक्त भंडार लेने से इनकार कर दिया था : दानवे

New Rules For International Travelers: मोदी सरकार ने कोरोना काल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसमें कोरोना का टीका लगवाने से लेकर खुद को अलग रखने तक के नियम शामिल हैं। यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी।2020 में कई बड़े स्‍मार्टफोन ट्रेंड देखने को मिले हैं. इनमें 100x जूम, 65 वॉट चार्जिंग, लिडार कैमरा, डॉल्‍बी विजन वीडियो, 7000 एमएएच बैटरी के अलावा कई और शामिल हैं. क्‍या आप जानना चाहेंगे कि भारत में इन फीचरों की शुरुआत किसने की है और ऐसे स्‍मार्टफोन ब्रांडों की कीमत कितनी है? यहां हम आपको इनके बारे में बता रहे हैं.बांग्लादेश सीमा पर ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि से निर्यातक नाराज

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
पोकरस्टार्स क्या है

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) ताप बिजलीघरों में कोयले की कमी बरकरार है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, खानों से दूर स्थित चार दिन से कम कोयला भंडार (सुपर क्रिटिकल स्टॉक) वाले बिजली संयंत्रों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 61 पर पहुंच गयी। केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) के कोयला भंडार पर ताजा आंकड़ों के अनुसार, खानों से दूर स्थित चार दिन से कम के कोयला भंडार वाले बिजली संयंत्रों की संख्या 19 अक्टूबर को बढ़कर 61 पहुंच गयी जो 18 अक्टूबर को 58 थी। आंकड़ों से पता चलता है कि चार दिन के कोयला भंडार वाले बिजलीघरों की संख्या पिछले सप्ताह

एम फुटबॉल शेड्यूल 2020

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने बुधवार को स्पष्ट किया कि भारत आनुवंशिक रूप से परिष्कृत (जीएम) चावल का निर्यात नहीं करता है क्योंकि देश में ऐसी फसल की कोई व्यावसायिक किस्म नहीं है और इसकी खेती भी यहां प्रतिबंधित है। वाणिज्य मंत्रालय का स्पष्टीकरण भारत से कथित जीएम चावल से जुड़ी खाद्य वस्तुओं के निर्यात की खेप को वापस लेने के संबंध में एक रिपोर्ट के बाद आया है। मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘यह स्पष्ट किया जा सकता है कि भारत में जीएम चावल

ऑनलाइन गेम्स कार

धनतेरस और दिवाली के दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है.

फ्री बास्केटबॉल बेटिंग

धनतेरस और दिवाली के दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है.

कॉम फुटबॉल स्टेडियम

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) भारत ने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) से कहा है कि मत्स्य पालन सब्सिडी पर मौजूदा मसौदा ‘असंतुलित’ है और इसे बातचीत के लिए स्वीकार नहीं किया जा सकता। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है। अधिकारी ने कहा कि मसौदे में भारत द्वारा प्रस्तावित सुझावों को शामिल करने के बाद ही इसे बातचीत के लिए स्वीकार किया जा सकता है। भारत समय-समय पर कहता रहा है कि वह डब्ल्यूटीओ में मत्स्य पालन सब्सिडी के करार को अंतिम रूप देने का इच्छुक है, क्योंकि कई देशों द्वारा अत्यधिक मछलियां पकड़ने और तर्कहीन लाभों से घरेलू मछुआरों

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
यूरोपीय कप फुटबॉल सिंगल गेम गेस

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव ने बुधवार को कहा कि असंगठित और संगठित दोनों क्षेत्रों में काम करने वाले कामगारों का कल्याण महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि सरकार स्त्री-पुरुष समानता, जीवन को सुगम बनाने के साथ कारोबार सुगमता को बढ़ावा देने की दिशा में काम कर रही है। उन्होंने मुख्य श्रम आयुक्त (केन् द्रीय) का एक नया प्रतीक चिह्न जारी करने के मौके पर यह बात कही। वर्ष 1945 में स्थापित इस संगठन को केन् द्रीय औद्योगिक संबंध मशीनरी (सीआईआरएम) के रूप में भी जाना जाता है। इस मौके पर श्रम और रोजगार राज्यमंत्री रामेश्वर तेली भी मौजूद