तीन पत्ती बैकग्राउंड

तीन पत्ती बैकग्राउंड

time:2021-10-28 02:21:18 नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई Views:4591

lovebet बोनस नियम और शर्तें तीन पत्ती बैकग्राउंड 188bet मोबाइल ऐप एंड्रॉइड,casumo वेरिफ़िज़िरंग डौएर,lovebet 1xgames बोनस खाता,lovebet एफ मेयर क्रेस्ट हिल,lovebet आर हिल नेट वर्थ,lovebetबी,बैकारेट 2 स्टेप नाइफ शार्पनर,बैकारेट जूडि,बैटरी स्क्रीनशॉट,सट्टेबाजी जिम्बाब्वे,कैसीनो प्रवेश शुल्क,सीबी फुटबॉल स्थिति,क्रिकेट 19 एपीके एंड्रॉइड के लिए डाउनलोड करें,क्रिकेट रियो,एस्पोर्ट्स इनसाइडर,फ़ुटबॉल 03 जुलाई 2021,फुटबॉल वीडियो,महानतम फुटबॉल खिलाड़ी,एच101 पूल रम्मी खेलने के लिए,क्या बकरा नकली है?,जंगल रम्मी पेटीएम प्रोमो कोड,लाइव कैसीनो नौकरियां ग्रीन्सबर्ग पीए,लॉटरी सिडकोइंडिया कॉम,लूडो संयुक्त,ओसी लॉटरी,ऑनलाइन गेम विकास,दोस्तों के साथ ऑनलाइन पोकर ज़ूम,परिमच बनाम 1xbet,पोकर योजना चुस्त,री लॉटरी नंबर,रुम्मिकब क्लासिक,रम्मीकल्चर जीमेल,स्लॉट मशीन यूट्यूब 2020,स्पोर्ट्स ई लोगो,स्पोर्ट्सवियर एच एंड एम,वें लवबेट,यूईएफए चैंपियंस लीग फुटबॉल खिलाड़ी रेटिंग,कौन सा मनोरंजन मंच अधिक ईमानदार है,21 बजे mp3,ऑनलाइन पैसे बनाएं dns,क्रिकेट ओडी,गोवा यूट्यूब,तीन पत्ती मनी गेम,बकरी ज्ञापन होने का तरीका,बैकारेट zip,स्टेटस आधार, .नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

देश के संगठित रिटेल सेक्‍टर में पांच करोड़ लोगों को रोजगार मिला हुआ है.
नई दिल्ली : एक मजबूत नेशनल रिटेल पॉलिसी सेक्‍टर में जान फूंक सकती है. इससे देश में 2024 तक 30 लाख अतिरिक्त रोजगार के अवसर पैदा होंगे. उद्योग संगठन सीआईआई की रिटेल पर नेशनल कमेटी के चेयरमैन शाश्‍वत गोयनका ने यह बात कही.

सीआईआई इंडिया रिटेल समिट-2020 को संबोधित करते हुए गोयनका ने कहा कि नेशनल रिटेल पॉलिसी से यह क्षेत्र उबर सकेगा. आने वाले वर्षों में जोरदार ग्रोथ दर्ज कर पाएगा. गोयनका आरपी-संजीव गोयनका समूह के प्रमुख (रिटेल एंड एफएमसीजी) भी हैं. उद्योग के अनुमान के अनुसार, देश के संगठित रिटेल सेक्‍टर में पांच करोड़ लोगों को रोजगार मिला हुआ है.

इसे भी पढ़ें : दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन

शाश्‍वत बोले, ''आगे चलकर जब उद्योग अपने निचले स्तर से उबरेगा. ऐसे समय में सुधार की प्रक्रिया को तेज करने के लिए नए और उभरते मॉडल पर चर्चा करने की जरूरत होगी. उद्योग अब भी मांग में कमी की वजह से हुए नुकसान से उबर नहीं पाया है. ऐसे में उपभोक्ताओं का भरोसा कायम करने के लिए सक्रिय कदमों की जरूरत होगी.''

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें : अगले साल 87% कंपनियां बढ़ाएंगी वेतन : सर्वे

गोयनका बोले, ''आज पहले की तुलना में कहीं अधिक नेशनल रिटेल पॉलिसी के साथ अनुकूल वातावरण पैदा करने की जरूरत है. सरकार मजबूत रिटेल पॉलिसी लाकर सेक्‍टर की ग्रोथ बढ़ा सकती है. इससे 2024 तक 30 लाख अतिरिक्त रोजगार के अवसर पैदा हो सकते हैं. इसके अलावा इससे जुड़े क्षेत्रों में रोजगार के अप्रत्यक्ष अवसर भी पैदा किए जा सकते हैं.''

उन्होंने बताया कि शोध से पता चलता है कि रिटेल से जुड़े बुनियादी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर जैसे वेयरहाउस और कोल्‍ड स्‍टोरेज इत्‍याद‍ि में सिर्फ 6,500 करोड़ रुपये के निवेश से दो से तीन लाख अतिरिक्त रोजगार पैदा किए जा सकते हैं. इसी कार्यक्रम में उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के संयुक्त सचिव अनिल अग्रवाल ने बताया कि सरकार रिटेल पॉलिसी पर काम कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

नेशनल र‍िटेल पॉलिसीशाश्‍वत गोयनका30 लाख नौकरीरोजगार के अवसरसीआईआई

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.बेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह?

जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.सुकन्‍या समृद्धि योजना के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लीवगैस शेयर की कीमत

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.

लाइव कैसीनो क्रोनोस लॉगिन

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

mrcp भाग 1 के लिए सर्वश्रेष्ठ पाँच प्रश्न

आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.

तीन पत्ती हीरो

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.

जीएच फुटबॉल समाचार

ईटीएफ नए निवेशकों के लिए अच्‍छा विकल्‍प है. इसके लिए डीमैट अकाउंट की जरूरत होगी.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी